Home न्यूज़ और गॉसिप मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन, 71 वर्ष की उम्र में कहा...

मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन, 71 वर्ष की उम्र में कहा दुनिया को अलविदा

अपने डांस और कोरियोग्राफी से सबके दिलों में जगह बनाने वाली फिल्म जगत की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान (Saroj Khan) का शुक्रवार देर रात कार्डियक अरेस्ट के कारण मुंबई में निधन हो गया। 71 साल की उम्र में सरोज खान ने दुनिया को अलविदा कह दिया। वे बीते कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रही थीं। जानकारी के मुताबिक सरोज खान ने शुक्रवार की दरमियानी रात करीब 1.52 मिनट पर आखिरी सांस ली। इससे पहले सरोज खान को सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद 20 जून को बांद्रा स्थित गुरु नानक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हॉस्पिटल में एडमिट रहने के दौरान सरोज खान का कोरोना टेस्ट भी कराया गया था, हालांकि वह नेगेटिव आया था।

Saroj_Khan

सरोज खान के परिवार से जुड़े एक सूत्र ने दावा किया था कि उनका स्वास्थ्य धीरे-धीरे बेहतर हो रहा था। जल्द ही उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। लेकिन अचानक देर रात उनकी तबीयत बिगड़ गई और उन्हें बचाया नहीं जा सका। सरोज खान का अंतिम संस्कार शुक्रवार को मुंबई स्थित मलाड के मालवाणी में होगा।

 

Instagram पर यह पोस्ट देखें

 

को Saroj Khan (@sarojkhanofficial) द्वारा साझा की गई पोस्ट

फिल्मों में आने से पहले सरोज खान बैकग्राउंड डांसर थीं। उन्होंने 1950 के दशक के मशहूर कोरियाग्राफर बी. सोहनलाल के साथ ट्रेनिंग ली थी और बाद में इन्हीं के साथ शादी कर ली। बी. सोहन लाल से सरोज से 30 साल बड़े थे। शादी के दौरान सरोज खान 13 साल की थी। इतना ही नहीं, शादी से पहले सरोज ने इस्लाम धर्म भी कबूल किया। उनका असली नाम निर्मला नागपाल था।

सरोज खान की निजी जिंदगी की बात करें तो उनका जन्म 22 नवंबर 1948 में निरमला नागपाल के रूप में हुआ था। उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट अपने करियर की शुरुआत की थी। तीन साल की उम्र में उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम शुरू किया था। चार दशक के लंबे करियर में सरोज खान को 2,000 से ज्यादा गानों की कोरियोग्राफी करने का श्रेय हासिल है। सरोज खान को अपनी कोरियोग्राफी की कला के चलते 3 बार नेशनल अवॉर्ड मिल चुका था। संजय लीला भंसाली की फिल्म देवदास में डोला-रे-डोला गाने की कोरियोग्राफी के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड मिला था। माधुरी दीक्षित की फिल्म तेजाब के यादगार आइटम सॉन्ग एक-दो-तीन और साल 2007 में आई फिल्म जब वी मेट के सॉन्ग ये इश्क… के लिए भी उन्हें नेशनल अवॉर्ड मिला था।

सरोज खान फिल्म इंडस्ट्री में होने वाले कास्टिंग काउच को लेकर दिए अपने बयान के चलते सुर्खियों में आ गई थी। उन्होंने अपने बयान में कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच होता है लेकिन रेप नहीं होता। उन्होंने कहा था कि इस इंडस्ट्री में कोई भी आपसे जबरदस्ती नहीं करता, आप जो करते हैं अपनी मर्जी से करते हैं। हालांकि बाद में सरोज खान को अपने इस बयान के चलते काफी विरोध झेलना पड़ा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular